Ye desh hai veer jawaano ka lyrics in hindi,deshbhakti song lyrics,Naya Daur movie song

Ye desh hai veer jawaano ka lyrics in hindi,deshbhakti song lyrics,Naya Daur movie song

Ye desh hai veer jawaano ka Song & lyrics Credits

Song : Yeh Desh Hai Veer
Movie Name : Naya Daur
Music : O. P. Nayyar
lyrics : Sahir Ludhianvi
Singers :Mohammed Rafi, Balbir

Discription

Be engulfed with pride & love for the nation. Here’s the full song ‘Ye desh hai veer jawaano ka’ .ye Desh Hai Veer javanon ka is the most promising patriotic song of India sung by Mohammed Rafi and Balbir lyrics Sahir Ludhianvi from the film Naya Daur.

Ye desh hai veer jawaano ka lyrics in english,deshbhakti song lyrics,Naya Daur movie song

Ho
Ye desh hai veer jawaano ka
Albelon ka mastaano ka
Is desh ka yaaron hoy
Is desh ka yaaron kya kahna
Ye desh hai duniya ka gahna

O
Yahan chaudi chaati veeron ki
Yahan bholi shaklen heeron ki
Yahan gaate hain raanjhe hoy
Yahan gaate hain raanjhe masti me
Masti hai jhoome basti mein

Ho
Pedon pe baharen jhoolon ki
Raaho me kataaren phoolon ki
Yahan hasta hai saawan hoy
Yahan hasta hai saawan baalon me
Khilti hai kaliyan gaalon me

Ho
Kahil dangal surkh jawaano ke
Kahin kartab teer kamaano ke
Yahan nit nit mele hoy
Yahan nit nit mele sajte hain
Nit dhol aur taashe bajte hain

Ho
Dilbar ke liye dildaar hain ham
Dushman ke liye talwar hain ham
Maindaan me agar ham
Maindaan me agar ham dat jaaye
Mushkil hai ke peeche hat jaayen.

Ye desh hai veer jawaano ka lyrics in Hindi,deshbhakti song lyrics,Naya Daur movie song

ये देश है वीर जवानों का अलबेलों का मस्तानों का
ओ …
ओ … अति वीरों की
ये देश है वीर जवानों का
अलबेलों का मस्तानों का
इस देश का यारों … होय!!
इस देश का यारों क्या कहना
ये देश है दुनिया का गहना

ओ… ओ…
यहाँ चौड़ी छाती वीरों की
यहाँ भोली शक्लें हीरों की
यहाँ गाते हैं राँझे … होय!!
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में
मस्ती में झूमें बस्ती में

ओ… ओ…
पेड़ों में बहारें झूलों की
राहों में कतारें फूलों की
यहाँ हँसता है सावन … होय!!
यहाँ हँसता है सावन बालों में
खिलती हैं कलियाँ गालों में

ओ… ओ…
कहीं दंगल शोख जवानों के
कहीं कर्तब तीर कमानों के
यहाँ नित नित मेले … होय!!
यहाँ नित नित मेले सजते हैं
नित ढोल और ताशे बजते हैं

ओ… ओ…
दिलबर के लिये दिलदार हैं हम
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम
मैदां में अगर हम … होय!!
मैदां में अगर हम दट जाएं
मुश्किल है के पीछे हट जाएं

हुर्र हे !! हा!!
हुर्र हे !! हा!!
हुर्र हे !! हा!
अड़िपा! अड़िपा! अड़िपा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *