Mai Pardesi Hu मैं परदेशी हूँ – Durga Maa Bhajan By Udit Narayan And Anuradha Paudwal

Mai Pardesi Hu

Song/Lyrics Name :Mai Pardesi Hu Pahli Bar Aaya Hu Darshan Karne Maiya Ke Darbar Aaya Hu|
Singer :Udit NarayanAlka Yagnik
Album Name :Vaisno Yatra
Published Year :2010

Main Pardesi Hoon lyric In English

aiya Jag Kalyaani Maaf Karana Meri Bhool
Mainne Maathe Se Lagai Teri Charanon Ki Dhool
Yahaan Talak To Laayi Beti Aage Bhi Le Jao Na
MainPardesiHoon Pehli Baar Aaya Hoon
Darshan Karne Maiya Ke Darabaar Aaya Hoon
Ye Ham Kaha Aa Pahunche Ye Kaun Sa Sthaan Hai Beti

Ye Hai Aadi Kumaari Mahima Hai Isaki Bhaari
Garbhajoon Bakupa Hai Katha Hai Jisaki Nyaari
Bhairo Chandi Ik Jogi Maas Madira Haari
Lene Maan Ki Pariksha Baat Usane Vichaari
Maas Aur Madhu Maange Mati Usaki Thi Maari
Hui Antardhyaan Maata Aaya Pichhe Duraachaari
Nau Mahine Isime Rahi Maiya Avataari Ise
Gupha Garbhajoon Jaane Duniya Ye Saari
Aur Gupha Se Nikalakar Maata Vaishno Raani

Main Pardesi Hoon lyric In English


Oopar Paavan Gupha Mein Pindi Roop Me Prakat Hui
Dhany Dhany Meri Maata Dhany Teri Shakti Milati
Paapon Se Mukti Karake Teri Bhakti
Yahaan Talak To Laayi Beti Aage Bhi Le Jao Na
Oh Meri Maiya Itani Kathin Chadhai Ye Kaun Sa Sthaan Hai Beti
Dekho Ooncha Vo Pahaad Aur Gahari Ye Khai
Jara Chadhana Sambhal Ke Hatte Matthe Ki Chadhai

Tedhe Medhe Raste Hai Par Darana Na Bhai
Dekho Saamane Vo Dekho Saang Chhat Ki Dikhai
Paradeshi Yahaan Kuchh Kha Lo Pi Lo
Bas Thodi Yaatra Aur Baaki Hai
Aisa Lagata Hai Mujhako Mukaam Aa Gaya
Maata Vaishno Ka Nikat Hi Dhaam Aa Gaya
Yahaan Talak To Laayi Beti Aage Bhi Le Jao Na
Vaah Kya Sundar Nazaara Aakhir Ham
Maan Ke Bhavan Pahunch Hi Gae Na

Main Pardesi Hoon lyric In English


Ye Paavan Gupha Kidhar Hai Beti
Dekho Saamane Gupha Hai Maiya Raani Ka
Duaara Maata Vaishno Ne Yahaan Roop Pindiyon Ka Dhaara
Chalo Ganga Mein Naha Lo Thaali Pooja Ki Saja Lo
Leke Laal Laal Chunari Apane Sar Pe Bandhava Lo
Jaake Sindoori Gupha Mein Maan Ke Darshan Pa Lo
Bin Maange Hi Yahaan Se Man Ichchha Phal Pa Lo
Gupha Se Baahar Aakar Kanjake Bithaakar Unako

Halava Poori Aur Dakshina Dekar Aashirvaad Paaten Hai
Aur Lautate Samay Baaba Bhairo Naath Ke Darshan
Karne Se Yaatra Sampoorn Maani Jaati Hai
Aaj Tumane Saral Pe Upakaar Kar Diya
Daaman Khushiyon Se Aanand Se Bhar Diya
Bhej Bulaava Bhi Agale Baras Bhi Paradeshi
Ko Bulao Maan Har Saal Aaoonga Jaise Is Baar Aaya Hoon
MainPardesiHoon Pehli Baar Aaya Hoon

Main Pardesi Hoon lyric In Hindi

हो मैं परदेशी हूँ पहली बार आया हूँ दर्शन करने मइया के दरबार आया हूँ ||
हो मैं परदेशी हूँ पहली बार आया हूँ दर्शन करने मइया के दरबार आया हूँ ||

ऐ लाल चुनरिया वाली बेटी ये तो बताओ माँ के भवन जाने का रास्ता
किधर से है इधर से है या उधर से

सुन रे भक्त परदेशी इतनी जल्दी है कैसी
अरे जरा घूम लो फिर लो रौनक देखो कटरा की

जाओ तुम वह जाओ पहले पर्ची कटाओ
ध्यान मैया का धरो इक जैकारा लगाओ चले भक्तों की
टोली संग तुम मिल जाओ तम्हे रास्ता दिखा दूँ मेरे पीछे चले आओ
ये है दर्शनी डयोढ़ी दर्शन पहला है ये करो यात्रा शुरू तो जय माता दी कह
यहाँ तलक तो लायी बेटी आगे भी ले जाओ न
मैं परदेशी हूँ पहली बार आया हूँ दर्शन करने मैया के दरबार आया हूँ

इतना शीतल जल ये कौन सा स्थान है बेटी
ये है बाड़गंगा पानी अमृत समान होता तन मन पावन करो यहाँ स्नान
माथा मंदिर में टेको करो आगे प्रस्थान चरण पादुका वो जाने महिमा जहाँ
मैया जग कल्याणी माफ़ करना मेरी भूल मैंने माथे से लगाई तेरी चरणों की धूल
यहाँ तलक तो लायी बेटी आगे भी ले जाओ न
मैं परदेशी हूँ पहली बार आया हूँ दर्शन करने मैया के दरबार आया हूँ

ये हम कहा आ पहुंचे ये कौन सा स्थान है बेटी

Main Pardesi Hoon lyric In Hindi

ये है आदि कुमारी महिमा है इसकी भारी गर्भजून बकुपा है कथा है जिसकी न्यारी
भैरो चंडी इक जोगी मास मदिरा हारी लेने माँ की परीक्षा बात उसने विचारी
मास और मधु मांगे मति उसकी थी मारी हुई अंतर्ध्यान माता आया पीछे दुराचारी
नौ महीने इसीमे रही मैया अवतारी इसे गुफा गर्भजून जाने दुनिया ये सारी
और गुफा से निकलकर माता वैष्णो रानी ऊपर पावन गुफा में पिंडी रूप मे प्रकट हुई
धन्य धन्य मेरी माता धन्य तेरी शक्ति मिलती पापों से मुक्ति करके तेरी भक्ति
यहाँ तलक तो लायी बेटी आगे भी ले जाओ न

ओह मेरी मइया इतनी कठिन चढ़ाई ये कौन सा स्थान है बेटी

देखो ऊँचा वो पहाड़ और गहरी ये खाई जरा चढ़ना संभल के हत्ते मत्थे की चढ़ाई
टेढ़े मेढ़े रस्ते है पर डरना न भाई देखो सामने वो देखो सांग छत की दिखाई
परदेशी यहाँ कुछ खा लो पी लो बस थोड़ी यात्रा और बाकी है
ऐसा लगता है मुझको मुकाम आ गया माता वैष्णो का निकट ही धाम आ गया
यहाँ तलक तो लायी बेटी आगे भी ले जाओ न

Main Pardesi Hoon lyric In Hindi

वाह क्या सुन्दर नज़ारा आखिर हम माँ के भवन पहुंच ही गए न
ये पावन गुफा किधर है बेटी

देखो सामने गुफा है मैया रानी का दुआरा माता वैष्णो ने यहाँ रूप पिण्डियों का धारा
चलो गंगा में नहा लो थाली पूजा की सजा लो लेके लाल लाल चुनरी अपने सर पे बंधवा लो
जाके सिंदूरी गुफा में माँ के दर्शन पा लो बिन मांगे ही यहाँ से मन इच्छा फल पा लो
गुफा से बाहर आकर कंजके बिठाकर उनको हलवा पूरी और दक्षिणा देकर आशीर्वाद पातें है
और लौटते समय बाबा भैरो नाथ के दर्शन करने से यात्रा संपूर्ण मानी जाती है
आज तुमने सरल पे उपकार कर दिया दामन खुशियों से आनंद से भर दिया
भेज बुलावा भी अगले बरस भी परदेशी को बुलाओ माँ हर साल आऊंगा जैसे इस बार आया हूँ

मैं परदेशी हूँ पहली बार आया हूँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *